Top 5 Engineering Colleges in Uttar Pradesh know details in hindi

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

Top Engineering Colleges of UP: अगर आप भी इंजीनियरिंग में दिलचस्पी रखते हैं तो ये खबर आपके बेहद ही काम की है. यहां हम आपको उत्तर प्रदेश के टॉप 5 इंजीनियरिंग कॉलेजों के बारे में बताएंगे, जहां से पढ़ाई कर आप शानदार पैकेज वाली जॉब पा सकते हैं. इन कॉलेजों में विभिन्न स्ट्रीम मौजूद हैं, आइए जानते हैं…

NIRF की लेटेस्ट रैंकिंग के अनुसार यूपी के टॉप 5 इंजीनियरिंग कॉलेज की लिस्ट में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कानपुर पहले स्थान पर है. जबकि ये संस्थान देश में चौथे स्थान पर काबिज है. वहीं, प्रदेश में दूसरे नंबर पर बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी, तीसरे स्थान पर एमिटी यूनिवर्सिटी, गौतम बुद्ध नगर है. इसके बाद चौथे स्थान पर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी है.पांचवे स्थान की बात करें तो इस पर मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान आता है.

देश में किस स्थान पर हैं ये संस्थान

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कानपुर: 4
  • बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी: 15
  • एमिटी यूनिवर्सिटी, गौतम बुद्ध नगर: 31
  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी: 32
  • मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान: 49

क्या होता है इंजीनियर का काम?

एक इंजीनियर कई प्रकार की समस्याओं को हल करने के लिए साइंस और मैथ्स की मदद लेता है. वह उत्पादों, प्रणालियों और संरचनाओं को डिजाइन, विकसित और परीक्षण करते हैं.

सबसे ज्यादा डिमांड में रहती हैं ये ब्रांच

  • सिविल इंजीनियरिंग: सिविल इंजीनियर पुलों, इमारतों, सड़कों, बांधों और अन्य बुनियादी ढांचे का डिजाइन और निर्माण करते हैं.
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग: मैकेनिकल इंजीनियर मशीनों, उपकरणों और वाहनों का डिजाइन, निर्माण और रखरखाव करते हैं.
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग: इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बिजली के उत्पादन, वितरण और इस्तेमाल से संबंधित उपकरणों और प्रणालियों का डिजाइन, निर्माण और रखरखाव करते हैं.
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग: इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियर इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों, संचार प्रणालियों और कंप्यूटरों का डिजाइन, निर्माण और रखरखाव करते हैं.
  • कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग: कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग के इंजीनियर सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर और डेटाबेस सिस्टम का डिजाइन, विकास और रखरखाव करते हैं.

कौन कर सकता है इंजीनियरिंग?

यदि आप डिल्पोमा करना चाहते हैं तो आपका 10वीं पास होना जरूरी है. वहीं, यदि आप इंजीनियरिंग के फील्ड में डिग्री हासिल करना चाहते हैं तो आपको बीटेक या फिर बीई जैसे कोर्स चुनने होंगे. इसके अलावा मास्टर्स डिग्री यानी की पोस्ट ग्रेजुएशन करने के लिए उम्मीदवार का ग्रेजुएट होना जरूरी है. बीटेक और बीई करने के लिए उम्मीदवार का 12वीं पास होना जरूरी है. अभ्यर्थी के पास 12वीं में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स विषय होने जरूरी हैं.

यह भी पढ़ें- ये हैं सबसे कम फीस वाले एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग कॉलेज, पढ़ाई के बाद दिलाते हैं NASA में एंट्री

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Rate this post

About The Author

Scroll to Top
हमें शेयर बाजार में निवेश क्यों करना चाहिए 10 कारण जानें