Sunita Kejriwal Education wife of arvind kejriwal sunita kejriwal an IRS Officer from bhopal how she met arvind kejriwal political connection

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

Education Of Sunita Kejriwal: दिल्ली के चीफ मिनिस्टर अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल आजकल सुर्खियों में हैं. पति की गिरफ्तारी के बाद से उन्होंने मोर्चा संभाला हुआ है और तब से दो बार प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चुकी हैं. चर्चा ये भी है कि वे दिल्ली के सीएम की कुर्सी संभाल सकती हैं. 21 मार्च के दिन अरविंद केजरीवाल को इंफोर्समेंट डायरेक्ट्रेट ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया था. तब से वे जेल में हैं और बेल के आसार नहीं दिख रहे. ऐसे में वे जेल से कैसे मुख्यमंत्री पद की कमान संभालेंगे ये बड़ा सवाल है. ऐसे में चर्चा ये है कि उनकी पत्नी सुनीता केजरीवाल दिल्ली के सीएम का पद संभाल सकती हैं. 

सुनीता केजरीवाल के चर्चा में आने के बाद से उनसे जुड़ी हर छोटी-बड़ी बात चर्चा में आ रही है. आज जानते हैं कि वे कितनी पढ़ी हैं, उन्होंने किस पद पर काम किया, राजनीति के क्षेत्र में वे कितनी एक्टिव रहीं और उन्होंने समय से पहले प्रशासनिक अधिकारी जैसी नौकरी क्यों छोड़ दी.

इस विषय से किया है ग्रेजुएशन

रिकॉर्ड्स के मुताबिक सुनीता केजरीवाल ने जुलॉजी विषय से ग्रेजुएशन किया है. वे पढ़ाई में अच्छी थी और इसी क्रम में उन्होंने यूपीएससी सीएसई परीक्षा दी और सेलेक्ट होकर इंडियन रेवेन्यू सर्विसेस ज्वॉइन की. साल 1994 बैच की आईआरएस ऑफिसर सुनीता केजरीवाल ने आईटी डिपार्टमेंट में 22 साल तक अपनी सेवाएं दी.

कैसे हुई अरविंद केजरीवाल से मुलाकात

सुनीता केजरीवाल के पति अरविंद केजरीवाल भी आईआरएस ऑफिसर के पद पर तैनात थे, जब दोनों की मुलाकात हुई. सुनीता 1994 बैच की ऑफिसर थी और 1995 बैच के ऑफिसर अरविंद केजरीवाल थे. दोनों की मुलाकात भोपाल में एक ट्रेनिंग प्रोग्राम के दौरान हुई थी. ये मुलाकात आगे बढ़ी और बाद में दोनों ने शादी कर ली.

पति के लिए छोड़ी नौकरी

साल 2006 में अरविंद केजरीवाल ने इंडियन रेवेन्यू सर्विसेस से इस्तीफा दिया. इस समय मे ज्वॉइंट कमिश्नर पद पर तैनात थे. इसके बाद वे पॉलिटिक्स में एक्टिव हो गए. इसके दस साल बाद तक सुनीता केजरीवाल नौकरी करती रहीं और साल 2016 में उन्होंने वीआरएस ले लिया. इस तरह जहां वे पहले थोड़े समय के लिए पति के साथ पॉलिटिक्स में एक्टिव रहती थीं, वहीं नौकरी छोड़ने के बाद वे पूरी तरह उनके सपोर्ट में आ गईं. 

यह भी पढ़ें: सरकारी नौकरी पाने का बढ़िया मौका, 1300 पदों के लिए करें अप्लाई 

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Rate this post

About The Author

Scroll to Top
हमें शेयर बाजार में निवेश क्यों करना चाहिए 10 कारण जानें