Students Of Class 3rd And 5th Will Not Be Promoted In MCD Schools Know The New Rules

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

देश की राजधानी दिल्ली के एमसीडी स्कूल में पढ़ने वाले छात्रों के लिए बड़ी खबर आई है. एमसीडी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को अब अपनी पढ़ाई पर पूरा ध्यान देना होगा. एमसीडी स्कूल्स 2023-24 सेशन के लिए नई पॉलिसी लागू होने जा रही है. पॉलिसी के तहत आगे की क्लास में प्रमोट होने वाले स्टूडेंट पर बड़ा असर पड़ेगा. फिलहाल यह नई पॉलिसी सिर्फ क्लास थर्ड और क्लास फिफ्थ के लिए लागू होगी. आइए जानते हैं क्या है इस नई एजुकेशन पॉलिसी में. 

तीसरी और पांचवीं के सभी बच्चे नहीं होंगे प्रमोट

एमसीडी के स्कूल में अब नए सेशन से नई शिक्षा  नीति लागू होने जा रही है. बता दें एमसीडी के कल 1534 स्कूल है जिनमें 8 लाख के करीब बच्चे पढ़ाई करते हैं. एमसीडी के स्कूलों में अब तक की यह नियम था कि क्लास  फर्स्ट से लेकर  फिफ्थ तक बच्चों को बिना फेल किये आगे की क्लास में प्रमोट किया जाता था.

लेकिन अब से नई शिक्षा पॉलिसी के तहत थर्ड और फिफ्थ क्लास के बच्चों को प्रमोट नहीं किया जाएगा. अब बच्चों को पूरी तरह पढ़ाई पर ध्यान देना होगा उनके अटेंडेंस से लेकर उनके बिहेवियर तक और उनके ओवरऑल जनरल नॉलेज को भी आंका जाएगा. इसके साथ ही एनुअल एग्जाम का पेपर भी बाहर से तैयार होकर आएगा. 

बच्चों के भविष्य के लिए  बेहतर

एमसीडी स्कूल की नई एजुकेशन पॉलिसी से एमसीडी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को काफी फायदा होगा. एजुकेशन डिपार्मेंट द्वारा दी गई जानकारी के हिसाब से एमसीडी के स्कूल में तीसरी और पांचवी क्लास में मिलाकर कुल साढ़े तीन लाख के करीब बच्चे पढ़ रहे हैं. लेकिन इस में से कौन सा बच्चा रेगुलर क्लास आया. किसने पूरे साल पढ़ाई की, किसके कितने नंबर आए. इन बातों को बिना ध्यान में रखते हुए सभी बच्चों को आगे की क्लास में प्रमोट कर दिया जाता था.

जिससे जो बच्चे साल भर पढ़े नहीं है. जो स्कूल नहीं आए हैं. आगे चलकर उन्हें पढ़ाई में दिक्कत होती थी. लेकिन इस नई शिक्षा पॉलिसी से अब सभी बच्चों को पढ़ाई पर ध्यान देना होगा. और उनके माता-पिता भी उन्हें अब रेगुलर स्कूल भेजेंगे. बता दें पहले इन बच्चों का पेपर उन्हीं के स्कूल में बनता था जो कि अब बाहर से बनकर आएगा. 

यह भी पढ़ें- Study in Abroad: इंटरनेशनल स्टूडेंट्स की तादाद घटाएगा कनाडा, जानें भारतीय छात्रों के पास क्या-क्या होंगे ऑप्शन?

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Rate this post

About The Author

Scroll to Top
हमें शेयर बाजार में निवेश क्यों करना चाहिए 10 कारण जानें