Pradhan Mantri Rashtriya Bal Puraskar 2024 given to 19 children from AI Scientist to Google Boy by President Droupadi Murmu

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

Pradhan Mantri Rashtriya Bal Puraskar 2024: इस साल के प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से कुल 19 बच्चों को सम्मानित किया गया है. भारत की प्रेसिडेंट द्रौपदी मुर्मू ने कल एक समारोह में इन बच्चों को पुरस्कार वितरित किए. इनमें 9 साल के पर्वतारोही से लेकर, गूगल ब्वॉय, स्पेशली एबल्ड पेंटर और एआई साइंटिस्ट तक तमाम बच्चे शामिल थे. इन सभी को इनके अभिन्न योगदान के लिए इंडियन प्रेसिडेंट ने राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया. महाराष्ट्र के एक बच्चे को ये अवॉर्ड मरणोपरांत दिया गया. देखते हैं पुरस्कार मिलने वाले बच्चों की लिस्ट.

मरणोपरांत मिला सम्मान

इस लिस्ट का सबसे विशेष नाम आदित्य विजय ब्रम्हणे हैं. 12 साल के आदित्य ने बहादुरी की मिसाल पेश करते हुए अपने दो भाइयों को डूबने से बचाया था. महाराष्ट्र के आदित्य ने अपनी जान देकर अपने भाई हर्ष और श्लोक को नदी में डूबने से बचाया था लेकिन आदित्य खुद नहीं बच सके. खेल-खेल में ये हादसा हुआ था.

इस के बाद राजस्थान के 17 साल के आर्यन सिंह का नाम आता है. इन्होंने एक एआई साइंटिस्ट के तौर पर काम करते हुए एग्रोबूट बनाया है जो किसानों के जीवन को आसान करने में मदद करेगा. टेक्नोलॉजी की मदद से खेती की जा सकेगी.

इसी प्रकार छत्तीसगढ़ के अरमान उभरानी को मैथ्स और साइंस में खास प्रदर्शन करने के लिए और ‘गूगल ब्वॉय’ की पदवी मिलने के बाद इस पुरस्कार से भी नवाजा गया है.

इस लिस्ट में अगला नाम गुजरात की 13 साल की हेतवी कांतिभाई खिमसुरिया का है. हेतवी सेरेब्रल पाल्सी से ग्रसित हैं. उन्हें असाधारण चित्रकारी के ले ये पुरस्कार दिया गया है. वे अपनी मासिक पेंशन भी दान करती है.

इन श्रेणियों में मिलता है पुरस्कार

बता दें कि प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार इन 6 श्रेणियों में दिए गए – कला और संस्कृति, वीरता , नवाचार , विज्ञान और प्रौद्योगिकी , सामाजिक सेवा और खेल. तेलांगना की 14 साल की पेंड्याला लक्ष्मी प्रिया को कुचिपुड़ी डांस के लिए, दिल्ली की 16 साल की सुहानी को सोलर एनर्जी से चलने वाले कृषि वाहन को बनाने के लिए और एमपी के 9 साल के अवनीश तिवारी को डाउन सिंड्रोम होने के बाद माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई करने के लिए पुरस्कृत किया गया. हरियाणा की 9 साल की गरिमा देख नहीं सकती लेकिन साक्षर पाठशाला चलाती हैं.

ये हैं लिस्ट के बाकी नाम

अनुष्का पाठक, आदित्य यादव, ज्योत्सना अख्तर, सैयाम मजूमदार, चार्वी, जेसिका नेयी सारिंग, लिनथोई चनंबम, आर सूर्य प्रसाद, इशफाक हामिद, एमडी हुसैन.

यह भी पढ़ें: इन तीन सब्जेक्ट पर बना ली पकड़ तो चुटकियों में पास हो जाएगी CUET UG परीक्षा

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Rate this post

About The Author

Scroll to Top
हमें शेयर बाजार में निवेश क्यों करना चाहिए 10 कारण जानें