Most foreign students come to study in this state of India All India Survey for Higher Education

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

भारत अब हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है. बात चाहे तकनीक की हो, व्यापार की हो, डिफेंस की हो या फिर शिक्षा की भारत हर क्षेत्र में बेहतर कर रहा है. खासतौर से उच्च शिक्षा के मामले में भारतीय संस्थान अब देश के छात्रों के साथ-साथ विदेशी छात्रों को भी अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं. चलिए आपको बताते हैं कि भारत के किस राज्य में सबसे ज्यादा विदेशी छात्र हर साल पढ़ने आते हैं.

किस राज्य में सबसे ज्यादा विदेशी छात्र पढ़ते हैं

ऑल इंडिया सर्वे फॉर हायर एजुकेशन 2021-22 (All India Survey for Higher Education 2021-22) के आंकड़े बताते हैं कि भारत में सबसे ज्यादा विदेशी छात्र कर्नाटक में पढ़ते हैं. यहां विदेशी छात्रों की संख्या 6,004 है. जबकि इस मामले में दूसरे नंबर पर पंजाब है. पंजाब में विदेशी छात्रों की संख्या 5,971 है. वहीं महाराष्ट्र तीसरे और उत्तर प्रदेश चौथे नंबर पर है. महाराष्ट्र में विदेशी छात्रों की संख्या 4,856 और उत्तर प्रदेश में 4,323 है.

किस देश से आते हैं सबसे ज्यादा छात्र

भारत में उच्च शिक्षा हासिल करने आने वाले विदेशी छात्रों में सबसे ज्यादा संख्या नेपाल के छात्रों की होती है. ये संख्या 2021-22 में 13,126 थी. वहीं दूसरे नंबर पर अफगानिस्तान था और तीसरे नंबर पर अमेरिका. बांग्लादेश और यूएई से भी छात्र भारत में उच्च शिक्षा हासिल करने हर साल आते हैं. कुल विदेशी छात्रों की बात करें तो भारत में 2021-22 में  170 देशों से 46,878 विदेशी छात्र उच्च शिक्षा हासिल करने पहुंचे थे.

भारतीय छात्र भी जाते हैं विदेश

ऐसा नहीं है कि सिर्फ विदेशी छात्र ही भारत में उच्च शिक्षा हासिल करने आते हैं. भारतीय छात्र भी विदेशों में हायर एजुकेशन के लिए जाते हैं. मिनिस्ट्री ऑफ एक्टर्नल अफेयर्स ने साल 2023 में राज्यसभा में इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया था कि कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, यूके और यूएस विदेश में उच्च शिक्षा हासिल करने वाले भारतीय छात्रों की लिस्ट में टॉप पर हैं. वहीं कुछ छात्र उज्बेकिस्तान, फिलीपींस, रूस, आयरलैंड, किर्गिस्तान और कजाकिस्तान जा कर भी हायर एजुकेशन हासिल करते हैं. राज्यसभा में दिए गए आंकड़े के मुताबिक, साल 2022 में विदेश जाकर उच्च शिक्षा हासिल करने वाले भारतीय छात्रों की संख्या 7.5 लाख थी.

ये भी पढ़ें: क्या होता है ‘नर्व्स ऑफ स्टील’, जिसे प्रशांत किशोर ने राहुल गांधी के लिए किया इस्तेमाल?

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Rate this post

About The Author

Scroll to Top
हमें शेयर बाजार में निवेश क्यों करना चाहिए 10 कारण जानें