How to become Drone Pilot what is the course for drone pilot salary eligibility price of drone courses

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

How To Become A Drone Pilot: एक समय था जब ड्रोन का इस्तेमाल इक्का-दुक्का जगहों पर ही होता था.  इसे उड़ाने वाले खास होते थे और कम लोगों के पास ही ये ट्रेनिंग होती थी. लेकिन समय के साथ चीजें बदलीं और अब सिक्योरिटी से लेकर मीडिया इंडस्ट्री तक में लगभग हर जगह ड्रोन का प्रयोग होता है. शादी-ब्याह हो या किसी फिल्म की शूटिंग जहां कोई नहीं पहुंचता वहां ड्रोन पहुंचता है. इसके बढ़ते इस्तेमाल ने करियर के दरवाजे भी खोले हैं. तो अगर आप भी इस फील्ड में करियर बनाना चाहते हैं तो यहां इससे जुड़ी जरूरी जानकारियां पढ़ें.

इन कामों के लिए होता है इस्तेमाल

ड्रोन का इस्तेमाल कमर्शियल और रीक्रिएशनल दोनों तरह के कामों के लिए होता है. इस बारे में मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो साल 2024 में ड्रोन इंडस्ट्री 900 करोड़ तक की हो सकती है. इसलिए इस फील्ड में करियर बनाना कहीं से भी घाटे का सौदा नहीं लग रहा है.

क्या है योग्यता

ड्रोन उड़ाने के लिए कई बार प्रोफेशनल ट्रेनिंग लेनी होती है जबकि कई बार बिना प्रोफेशनल सर्टिफिकेट के भी ये काम किया जा सकता है. हालांकि अगर आप कमर्शियल तौर पर ड्रोन उड़ाना चाहते हैं तो आपको इससे संबंधित ट्रेनिंग लेनी होगी. इसके लिए योग्यता संस्थान के हिसाब से अलग-अलग होती है. मोटे तौर पर किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से दसवीं और बारहवीं पास कैंडिडेट्स अप्लाई कर सकते हैं.

कैसे बन सकते हैं पायलट

हमारे देश में ड्रोन पायलट बनने और इसका लाइसेंस पाने के लिए कैंडिडेट को डीजीसीए द्वारा रिकग्नाइज इंस्टीट्यूट से ट्रेनिंग लेनी होती है. इसके लिए योग्यता 12वीं पास है. इसके साथ ही कैंडिडेट को मेडिकल एग्जामिनेशन भी पास करना होता है और उसका बैकग्राउंड गवर्नमेंट एजेंसी चेक करती है.

लाइसेंस पाने के लिए ट्रेनिंग पूरी होने के बाद लिखित परीक्षा देनी होती है. डीजीसीए लाइसेंस देता है. कोर्स की फीस इंस्टीट्यूट के हिसाब से होती है जो 30 हजार से लेकर 1 लाख तक हो सकती है.

नोट करें ये जरूरी वेबसाइट

इंडियन गवर्नमेंट ने कुछ समय पहले Digital Sky नाम की वेबसाइट लॉन्च की है. इससे आपको ड्रोन के बारे में सभी जानकारी, परमिशन वगैरह मिलेगी. यहां मौजूद मैप पर आपको ग्रीन, येलो और रेड जोन पता चलेंगे साथ ही फ्लाइंग और नॉन-फ्लाइंग जोन भी.

यहां से करें कोर्स

फ्लाईटेक एविएशन एकेडमी, हैदराबाद

एलायंस यूनिवर्सिटी, अनेकल, बेंगलुरु

फोर इंस्टीट्यूट ऑफ ड्रोन टेक्नोलॉजी एंड रिसर्च, गुरुग्राम

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी, फुर्सतगंज एयरफील्ड, अमेठी

माधव इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस, ग्वालियर

द बॉम्बे फ्लाइंग क्लब – जुहू एयरपोर्ट, मुंबई

सीएएसआर अन्ना यूनिवर्सिटी – सेंटर फॉर एयरोस्पेस रिसर्च एमआईटी कैंपस, चेन्नई. 

यह भी पढ़ें: आईआईटी कानपुर ने लॉन्च की रामायण वेबसाइट 

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Rate this post

About The Author

Scroll to Top
हमें शेयर बाजार में निवेश क्यों करना चाहिए 10 कारण जानें