Aeronautical Engineering Colleges in India with lowest fee know in hindi

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

Aeronautical Engineering Colleges: 12वीं क्लास पास करने के बाद ज्यादा छात्र इंजीनियर या डॉक्टर बनने का सपना देखते हैं. जिसके लिए वह विभिन्न परीक्षाएं देते हैं और उनके लिए तैयारी भी जी जान से करते हैं. आमतौर पर छात्र इलेक्ट्रिकल, मैकेनिकल, सिविल जैसे फील्ड में इंजीनियरिंग करना पसंद करते हैं. लेकिन मॉडर्न समय में बहुत से ऐसी ब्रांच आ गईं हैं, जिनमें इंजीनियरिंग करने के बाद आपको तगड़े पैकेज वाली जॉब मिल सकती हैं. आज हम आपको इंजीनियरिंग की एक ऐसी ब्रांच के बारे में बताएंगे जिसमें पढ़ाई करने के बाद आप NASA तक में जॉब पा सकते हैं.

यदि आप भी एयरोस्पेस इंजीनियरिंग में करियर बनाने का सपना देख रहे हैं? लेकिन फीस को लेकर परेशान हैं तो आपको चिंता करने के जरूरत नहीं है. आज हम आपको बतांएगे कुछ ऐसे बेहतरीन कॉलेज जो आपको अपनी योग्यता और रुचि के अनुसार शिक्षा प्राप्त करने का अवसर प्रदान करते हैं. आइए जानते हैं भारत में एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग करने के लिए कौन से कॉलेज बेस्ट हैं…

छात्रों के लिए मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नलॉजी एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग ट्रेड में पढ़ाई करने के लिए एक शानदार विकल्प है. यहां से आप इसमें बीटेक की डिग्री हासिल कर सकते है. इसके अलावा यहां पढ़ाई करने वाले छात्रों को शानदार पैकेज पर बढ़िया प्लेसमेंट भी मिल जाता है. रिपोर्ट्स के अनुसार इस कॉलेज की फीस सबसे कम हैं. छात्र इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ स्पेस साइंस एंड टेक्नोलॉजी से एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर सकते हैं.

यहां से भी कर सकते हैं पढ़ाई

वहीं, छात्र हिंदुस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस, इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एन्ड साइंस बैंगलोर, इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कानपुर, इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी मद्रास,  इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी खड़गपुर से भी एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर सकते हैं. इन सभी कॉलेजों की फीस अलग-अलग हैं. इन कॉलेज की फीस करीबन 50 हजार रुपये सलाना से शुरू होती हैं और तकरीबन 1.50 लाख रुपये साल तक होती हैं. ज्यादा जानकारी के लिए उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट या फिर कॉलेज में सम्पर्क कर पा सकते हैं. 

क्या है काम?

एयरोनॉटिकल इंजीनियर हवाई जहाज, हेलीकॉप्टर, मिसाइल, ड्रोन और अंतरिक्ष यान जैसे विमानों को डिजाइन, विकसित और परीक्षण करने का कार्य करते हैं.

कहां पा सकते हैं जॉब

डिफेन्स, एविएशन, इंडियन एयर फोर्स, नेवी, इसरो, नासा, स्पेस रिसर्च एंड डेवलपमेंट सेंटर आदि जगह एयरोनॉटिकल इंजीनियरों की काफी डिमांड रहती है.

यह भी पढ़ें- 5 हजार से ज्यादा टीचर पदों के लिए आज से करें अप्लाई, लास्ट डेट से लेकर एज लिमिट तक, यहां देखें जरूरी डिटेल

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Rate this post

About The Author

Scroll to Top
हमें शेयर बाजार में निवेश क्यों करना चाहिए 10 कारण जानें